जैमिनी एवं अन्य ज्योतिष शाखा से प्रमुख फलित सूत्र
आत्मकारक , अमात्यकारक आदि चर कारको का  महत्व एवं उपयोग
अर्गला महत्व एवं उपयोग
आरूढ़ लगन ,
कारकांश ,
उप पद लगन आदि से फलित
चर दशा एवं फलित सूत्र
नक्षत्र एवं उपनक्षत्र सिद्धांत
अन्य प्रमुख नक्षत्र  अथवा  राशि दशा
विवाह
संतान
शिक्षा
कर्मक्षेत्र
सहित  जीवन की  सभी प्रमुख घटनाओ  संबंधित  फलित सूत्र

जल्द ही आ रहा है

समय: 11:00 से 12:30

सत्र: 10

शुल्क: 10000/189$

(17.8.2021 तक प्रारंभिक पक्षी)

उसके बाद 12000/221 $

भाषा: हिंदी

माध्यम: ज़ूम